इबेरिया प्रायद्वीप

इबेरियाई प्रायद्वीप या इबेरिया, यूरोप के दक्षिणपश्चिम भाग में स्थित एक प्रायद्वीप है। इस प्रायद्वीप के दक्षिण और पूर्व में भूमध्य सागर है और उत्तर और पश्चिम में अन्ध महासागर। यह ५,८२,८६० वर्ग किमी क्षेत्रफल के साथ यूरोप का तीसरा सबसे बड़ा प्रायद्वीप है। इबेरिया इस क्षेत्र के लिए एक प्राचीन यूनानी नाम है जिसे रोमन "हिस्पैनिया" कहते थे। हिस्पैनिया शब्द अब केवल स्पेन के लिए प्रयुक्त होता है, जबकि इबेरिया नाम इस पूरे प्रायद्वीप के लिए जिसपर अन्य देश भी स्थित हैं।

औबेरिया प्रायद्वीप
इबेरियाई प्रायद्वीप

देश और राज्यक्षेत्र

इस प्रायद्वीप पर निम्नलिखित देश स्थित हैं:

  • Flag of Spain.svg स्पेन, इस प्रायद्वीप पर स्थित सबसे बड़ा देश जो प्रायद्वीप के अधिकान्श भाग को घेरे हुए है।
  • Flag of Portugal.svg पुर्तगाल, प्रायद्वीप के पश्चिमी तट स्थित एक देश।
  • Flag of Andorra.svg अण्डोरा, प्रायद्वीप के उत्तरी कोने पर स्थित एक छोटा-सा देश जो फ़्रान्स और स्पेन के मध्य स्थित है।
  • Flag of Gibraltar.svg जिब्राल्टर, एक ब्रिटिश पारसमुद्री राज्यक्षेत्र।
अण्डोरा

अण्डोरा , अधिकारिक रूप से प्रिंसिपालिटी ऑफ़ अंडोरा को प्रिंसिपालिटी ऑफ़ वैली ऑफ़ अंडोरा के नाम से भी जाना जाता है, यह दक्षिण-पश्चिम यूरोप का घिरा हुआ एक सूक्ष्म राज्य है, जो पूर्वी पायरेनीस पर्वत पर स्थित है और स्पेन और फ्रांस की बॉर्डर भी इससे जुडी हुई है। इसका निर्माण 988 चार्टर में किया गया था और वर्तमान प्रिंसिपालिटी की रचना 1278 में की गयी। अण्डोरा यूरोप क एक देश है जो पाइरेनी पर्वत के दक्षिणी चोटियों में स्थित है और फ्रांस द्वारा उत्तर और पूर्व में और स्पेन द्वारा दक्षिण और पश्चिम तक घिरा हुआ है। यह यूरोप के सबसे छोटे राज्यों में से एक है। इसकी राजधानी अण्डोरा ला वेला है। अंडोरा देश यूरोप का छठा सबसे छोटा देश है और दुनिया का 16 वा सबसे छोटा देश है , जिसका क्षेत्रफल 468 वर्ग किलोमीटर (181 वर्ग मील) और जनसँख्या तक़रीबन 85,000 है। इसकी राजधानी अंडोरा ला वेल्ला, यूरोप की सबसे ऊँची राजधानी है, जो समुद्री सतह से तक़रीबन 1,023 मीटर (2,3,56 फीट) ऊँची है। अंडोरा की अधिकारिक भाषा कैटलन है, इसके साथ-साथ यहाँ स्पेनिश, पुर्तगाली और फ्रेंच भाषा का प्रयोग भी किया जाता है।

यहां कोई एयरपोर्ट तो नहीं है, लेकिन इनके पास तीन प्राइवेट हेलीपैड जरूर हैं। इस देश से 12 किलोमीटर दूर इसका सबसे करीबी एयरपोर्ट है।अंडोरा टूरिज्म सर्विस के अनुसार हर साल तक़रीबन 10.2. मिलियन प्रवासी अंडोरा देखने के लिए आते है। यह देश यूरोपियन संघ का सदस्य तो नही, लेकिन इसके अधिकारिक मुद्रा यूरो ही है। 1993 से अंडोरा यूनाइटेड नेशन का सदस्य है। दी लांसेट के अनुसार, 2013 में अंडोरा के लोगो की जीवन प्रत्याशा 81 वर्ष थी, जो अब तक की तुलना में सबसे ज्यादा है।

अब्द अर-रहमान चतुर्थ

अब्द अर-रहमान चतुर्थ; 1018 ईस्वी में सुलेमान द्वितीय के उत्तराधिकारी और अल अन्डालुस (इबेरिया प्रायद्वीप) के अन्तिम कोर्डोबा उमय्यद खलीफा थे इनकी शासनकाल के दौरान एक युद्ध में हत्या करदी थी।

अब्द अर-रहमान द्वितीय

अब्द अर- रहमान द्वितीय; Abd ar-Rahman II, (जन्म:792 टोलीडो- मृत्यु: 852), अल-अन्डालस (इबेरिया प्रायद्वीप) में उमय्यद खिलाफत की शाखा कोर्डोबा अमीरात के चारवें अमीर थे जिन्होने 822-852 ईस्वी तक शासन किया।

अल-हाकम प्रथम

अल-हाकम इब्न हिशाम इब्न अब्द-अर-रहमान प्रथम; Al-Hakam Ibn Hisham Ibn Abd-ar-Rahman I, उमय्यद खिलाफत की कोर्डोबा अमीरात शाखा के अमीर थे जिन्होंने 796 से 822 ईस्वी तक अल-अन्डालस (इबेरिया प्रायद्वीप) पर शासन किया था।

इनके शासन काल में अनेक विद्रोह हुए जो ईसाइयो के उमय्यद खिलाफत के खिलाफ सबसे बड़े विद्रोह माने जाते हैं जिन्हें दबाने के लिए अल हाकम ने अधिक धन खर्च किया था।

अली इब्न हम्मुद अल-नासिर

अली इब्न हम्मुद अल-नासिर; Ali ibn Hammud al-Nasir, कोर्डोबा खिलाफत के छठे खलीफा जिन्होंने 1016 से 1018 ईस्वी तक शासन किया और शासनकाल के दौरान 1018 ईस्वी में ही मृत्यु हो गयी थी।

वह अल अंन्डालुस (इबेरिया प्रायद्वीप) के हम्मुद वंश से थे।

अल्कोनेत्र पुल

अल्कोनेत्र पुल (स्पैनिश: Puente de Alconétar) एक रोमन कमानी पुल है। यह एस्त्रेमादुरा स्पेन में स्थित है। यह अपनी किसम का एक पुराना पुल है। अपने डिजाइन के कारण, यह माना जाता है की इसे दूसरी सदी में सम्राट त्राजान जा हेड्रियान ने, अपने समें के मशहूर वास्तुकार दमास्कस के अपोलोदारूस, से बनवाइया था। लगभग 300 मीटर लंबी अल्कोनेत्र ब्रिज रोमन वाया डे ला प्लाटा, पश्चिमी हिस्पन्सिया में सबसे महत्वपूर्ण उत्तर दक्षिण कनेक्शन, के लिए एक बिंदु को पार करने के रूप में सेवा निभाता रहा। यह तागुस नदी पर बना हुआ है जो की इबेरिया प्रायद्वीप की सबसे लम्बी नदी है।

उमय्यद ख़िलाफ़त

उमय्यद खिलाफत; (Umayyad Caliphate) हजरत मुहम्मद साहब की मृत्यु के बाद स्थापित प्रथम रशीदुन चार खलीफाओं के बाद उमय्यद इस्लामी खिलाफत का हिस्सा बने, उमय्यद खलीफा बनू उमय्या बंश से या उमय्या के पुत्र जो मक्का शहर से जूड़े हुए थे।

उमय्यद परिवार पहले रशीदुन खिलाफत के तीसरे खलीफा उस्मान इब्न अफ्फान (644-656) के अधीन सत्ता में रहे थे लेकीन उमय्यद शासन की स्थापना मुआविया इब्न अबी सुफीयान जो लम्बे समय तक रशीदुन शासन काल में सीरिया के गवर्नर रहे जिस कारण उन्होंने उमय्यद खिलाफत अथवा शासन स्थापना की थी, प्रथम मुस्लिम फितना (गृहयुद्ध) के समय में भी सीरिया उमय्यदो का प्रमुख शाक्ति केन्द्र बना रहा और राजधानी दमिश्क में स्थापित की जिसके साथ उमय्यदो ने मुस्लिम विजय अभियान जारी रखे जिसमें काकेशस, ट्रोक्सियाकिसयाना, सिन्ध, मगरीब (माघरेब) और इबेरिया प्रायद्वीप (अल अन्डालस) की विजय के साथ मुस्लिम दूनिया में शामिल किया गया। उमय्यदो की शक्ति; उमय्यद खलीफाओं ने 11.100.000 वर्ग किलो मीटर (4.300.000 वर्ग मील) क्षेत्र और 62 मिलियन लोग थे जिससे उमय्यद दूनिया की 29 प्रतिशत आबादी पर शासन किया करते जिसके साथ क्षेत्रफल के अनुपात में विश्व के बड़े और महान साम्राज्यो में से एक था।

ऐबट ओलीबा

ऐबट ओलीबा (कैटलन : Abat Oliba; 971–1046) बर्गा और रिपोल के काउंट और बाद में वीक के बिशप व सेंट-मिचेल-डी-कोक्स़ा के मठधारी थे। ये सांटा मारिया डी मॉन्ट्सेराट ऐबी के संस्थापक भी थे। ओलीबा अपने समय की सबसे प्रभावशाली और महत्वपूर्ण शख्सियत में से एक थे जिन्होंने रोमेनेस्क कला को प्रोत्साहित किया था। इन्हें कातालोन्या के आध्यात्मिक संस्थापकों में से एक और अपने समय के इबेरिया प्रायद्वीप में यकीनन सबसे महत्वपूर्ण धर्माध्यक्ष माना जाता है।1973 में ऐबट अलीबा कॉलेज की स्थापना हुई जिसे बार्सिलोना विश्विद्यालय से मान्यता प्राप्त थी। 2003 में कातालोन्या की सरकार ने कॉलेज को पृथक विश्विद्यालय के रूप में परिवर्तित कर दिया व नए विश्विद्यालय का नाम ऐबट ओलीबा सीईयू यूनिवर्सिटी (कैटलन: Universitat Abat Oliba) रखा गया।

कोर्डोबा अमीरात

कोर्डोबा अमीरात; Emirate of Córdoba (अरबी‎‏: إمارة قرطبة, ‏इमारह कोरडोबा), इबेरिया प्रायद्वीप में एक स्वतंत्र इस्लामी राज्य था और राजधानी कोर्डोबा के साथ 756 और 929 के बीच अमीरात था।

711-718 ईस्वी में मुस्लिम उमय्यदो की हिस्पानिया विजय बाद इबेरिया प्रायद्वीप, उमय्यद खिलाफत के तहत एक प्रांत के रूप में स्थापित किया गया था।

कोर्डोबा खिलाफत

कोर्डोबा खिलाफत; Caliphate of Córdoba (अरबी: خلافة قرطبة‎; खिलाफत कोरडोबा) उमय्यद वंश द्वारा शासित उत्तरी अफ्रीका के एक भाग के साथ इबेरिया प्रायद्वीप में एक इस्लामी राज्य था।

कोर्डोबा में राजधानी के साथ राज्य 929 से 1031 ईस्वी आस्तिव में रहा जो क्षेत्र पूर्व में उमय्यद खिलाफत की शाखा कोर्डोबा अमीरात (756-929) का वर्चास्व था।

यह अवधि व्यापार और संस्कृति के विस्तार से हुई और अल- अन्डालुस में वास्तुकला की उत्कृष्ठ कृतियो का निर्माण देखा गया।

जिब्राल्टर

जिब्राल्टर औबेरियन प्रायद्वीप और यूरोप के दक्षिणी छोर पर भूमध्य सागर के प्रवेश द्वार पर स्थित एक स्वशासी ब्रिटिश विदेशी क्षेत्र है। 6.843 वर्ग किलोमीटर (2.642 वर्ग मील) में फैले इस देश की सीमा उत्तर में स्पेन से मिलती है। जिब्राल्टर ऐतिहासिक रूप से ब्रिटेन के सशस्त्र बलों के लिए एक महत्वपूर्ण आधार रहा है और शाही नौसेना (Royal Navy) का एक आधार है। यह विश्व में सबसे छोटी सीमा वाला देेेश है।

जिब्राल्टर की संप्रभुता आंग्ल-स्पेनी विवाद का एक प्रमुख मुद्दा रहा है। उत्रेच्त संधि 1713 के तहत स्पेन द्वारा ग्रेट ब्रिटेन की क्राउन को सौंप दिया गया था, हालांकि स्पेन ने क्षेत्र पर अपना अधिकार जताते हुए लौटाने की मांग की है। जिब्राल्टर के बहुसंख्यक रहवासियों ने इस प्रस्ताव के साथ-साथ साझा संप्रभुता के प्रस्ताव का विरोध किया।

यह चट्टानी प्रायद्वीप है, जो स्पेन के मूल स्थल से दक्षिण की ओर समुद्र में निकला हुआ है। इसके पूर्वं में भूमध्यसागर तथा पश्चिम में ऐलजेसियरास की खाड़ी है। 1713 ई. से यह अंग्रेजी साम्राज्य के उपनिवेश तथा प्रसिद्ध छावनी के रूप में है।

जिब्राल्टर के चट्टानी प्रायद्वीप को चट्टान (दी रॉक) कहते हैं। चट्टान समुद्र की सतह से एकाएक ऊपर उठती दृष्टिगोचर होती है। यह चट्टानी स्थलखंड उत्तर-दक्षिण फैली हुई पतली श्रेणी द्वारा बीच में विभक्त होता है, जिसपर कई ऊँची चोटियाँ हैं। चट्टानें चूना पत्थर की बनी हैं, जिनमें कई स्थलों पर प्राकृतिक गुफाएँ निर्मित हो गई हैं। कुछ गुफाओं में प्राचीन जीव-जंतुओं के चिह्न भी पाए गए हैं।

जिब्राल्टर नगर नया बसा है। प्राचीन नगर की प्राय: सभी पुरानी महत्वपूर्ण इमारतें युद्ध (177-83) में नष्ट हो गई। वर्तमान नगर 'राक' के उत्तरी-पश्चिमी भाग में 3/16 वर्ग मील के क्षेत्रफल में फैला है। इसके अतिरिक्त समुद्र का कुछ भाग सुखाकर स्थल में परिणत कर लिया गया है। नगर का मुख्य व्यापारिक भाग समतल भाग में है। समतल के उत्तर की ओर ऊँचे असमतल भागों में लोगों के निवासस्थान तथा दक्षिण की ओर सेना के कार्यालय तथा बेरक हैं। यहाँ एक सैनिक हवाई अड्डा भी है। जिब्राल्टर कोयले के व्यापार का मुख्य केंद्र था, पर तेल से जलयानों के चलने के कारण इस व्यापार में अब अधिक शिथिलता आ गई है।

पिरिनी पर्वत शृंखला

पिरिनी पर्वत शृंखला (स्पेनी: Pirineos, फ़्रान्सीसी: Pyrénées) द्क्षिणपश्चिमी यूरोप में स्पेन और फ़्रान्स की सीमा पर स्थित एक पर्वतमाला है। यह इबेरिया प्रायद्वीप को यूरोप के महाद्वीप के अन्य भागों से अलग करती है। पिरिनी पहाड़ों की पंक्तियाँ पूर्वोत्तर में बिस्के खाड़ी से लेकर दक्षिणपूर्व में भूमध्य सागर तक ४९१ किमी चलती हैं। अन्दोरा का नन्हा सा देश इन्ही पर्वतों में स्थित है।

पुर्तगाल

पुर्तगाली गणराज्य यूरोप खंड में स्थित देश है। यह देश स्पेन के साथ आइबेरियन प्रायद्वीप बनाता है। इस राष्ट्र का भाषा पुर्तगाली भाषा है। इस राष्ट्र का राजधानी लिस्बन है।

पुर्तगाली नाविक वास्को द गामा ने 1498 AD में भारत के समुद्री मार्ग की खोज की थी। सर्वप्रथम ग्लास का निर्माण इसी देश ने किया था।

ब्रिटिश समुद्रपार प्रदेश

ब्रिटिश समुद्रपार प्रदेश (अंग्रेजी: British Overseas Territories) या ब्रिटिश विदेशी प्रदेश, यूनाइटेड किंगडम के वो चौदह प्रदेश हैं, जो वैसे तो यूनाइटेड किंगडम का एक हिस्सा नहीं हैं पर इसके अधिकार क्षेत्र में आते हैं। यह वो प्रदेश हैं जो ब्रिटिश साम्राज्य के समय से ही ब्रिटेन के आधीन हैं और इन्हे आज तक या तो स्वतंत्रता प्राप्त नहीं हो पायी है या फिर इन्होने खुद ही ब्रिटेन का हिस्सा बने रहने के लिए मतदान किया है। ब्रिटिश राष्ट्रीयता अधिनियम 1981 (अंग्रेजी: British Nationality Act 1981) के अनुसार इन प्रदेशों को "ब्रिटिश अधीन क्षेत्र" नाम दिया गया था जिसे ब्रिटिश विदेशी प्रदेश अधिनियम 2002 (अंग्रेजी: British Overseas Territories Act 2002) के द्वारा बदल कर ब्रिटिश विदेशी प्रदेश कर दिया गया। 1981 से पहले, इन प्रदेशों को किरीट उपनिवेश या किरीटोपनिवेश (क्राउन कालोनी) कहा जाता था।

ब्रिटिश अंटार्कटिक क्षेत्र, जहाँ पर कोई स्थायी निवासी नहीं हैं और साइप्रस के संप्रभु सैन्य अड्डों के अलावा, सभी विदेशी प्रदेशों में स्थायी आबादी है। इन सभी क्षेत्रों का सामूहिक भूमि क्षेत्र 1728000 वर्ग किमी (667,018 वर्ग मील) और जनसंख्या लगभग 260,000 है। ब्रिटिश अंटार्कटिक क्षेत्र, चार अन्य संप्रभु राष्ट्रों और उनके अंटार्कटिक क्षेत्रों के साथ हुए एक पारस्परिक मान्यता समझौते का हिस्सा है। ब्रिटेन अंटार्कटिक संधि प्रणाली में एक भागीदार है।

जर्सी, ग्वेर्नसे और आइल ऑफ़ मैन जैसे क्षेत्र, हालांकि ब्रिटिश राजशाही की संप्रभुता के अंतर्गत आते हैं पर इनके साथ यूनाइटेड किंगडम का एक अलग संवैधानिक रिश्ता है और इन्हें किरीटाधीन क्षेत्र कहा जाता है। ब्रिटिश विदेशी प्रदेश और किरीटाधीन क्षेत्र राष्ट्रमंडल के उन देशों से अलग हैं जिनमें से ज्यादातर कभी ब्रिटिश साम्राज्य का हिस्सा थे।

मुहम्मद प्रथम कोर्डोबा

मुहम्मद प्रथम और मुहम्मद इब्न अब्द अर-रहमान अल-वस्त, Muhammad I or Muhammad ibn Abd ar-Rahman al-Wa'st, (जन्म:823 मृत्यु:886) अल अन्डलास (इबेरिया प्रायद्वीप) में 852 से 886 ईस्वी तक कोर्डोबा के उमय्यद अमीर थे।

याह्या इब्न अली इब्न हम्मुद अल-मुताली

याह्या इब्न अली इब्न हम्मुद अल-मुताली; Yahya ibn Ali ibn Hammud al-Mu'tali, कोर्डोबा खलीफा थे इन्होंने दो बार 1021 से 1023 तक और 1025 से 1026 ईस्वी तक शासन किया।

वह अल- अन्डालुस (इबेरिया प्रायद्वीप) के हम्मुद वंश से और बर्बर अरब मूल के खलीफा अली इब्न हम्मुद के पुत्र थे।

सान पेद्रो दे खाका बड़ा गिरजाघर

सान पेद्रो दे खाका बड़ा गिरजाघर (स्पैनिश: Catedral de San Pedro Apóstol) स्पेन के हुएसका प्रान्त में खाका शहर में स्थित है। ये एक रोमन कैथोलिक गिरजाघर है। ये अरगोन में रोमानिस्किऊ शैली में बना पहला गिरजाघर है। ये इबेरिया प्रायद्वीप का सबसे पुराना गिरजाघर है। इसकी वर्तमान हालत इसमें धीरे धीरे सुधार करने के बाद बनी। ये गिरजाघर राजा सांको रमीरेज़ की इछा पे बनाया गया था।

सुलेमान इब्न अल-हाकम

सुलेमान द्वितीय इब्न अल-हाकम, और सुलेमान अल-मस्ताइन; Sulayman II ibn al-Hakam (or Sulayman al-Musta'in), कोर्डोबा के पाँचवें उमय्यद खलीफा थे जिन्होने 1009 से 1013 के बीच और 1013 से 1016 ईस्वी तक अल अन्डालुस (इबेरिया प्रायद्वीप) पर शासन किया था।

स्पेन

स्पेन (स्पानी: España, एस्पाञा), आधिकारिक तौर पर स्पेन की राजशाही (स्पानी: Reino de España), एक यूरोपीय देश और यूरोपीय संघ का एक सदस्य राष्ट्र है। यह यूरोप के दक्षिणपश्चिम में इबेरियन प्रायद्वीप पर स्थित है, इसके दक्षिण और पूर्व में भूमध्य सागर सिवाय ब्रिटिश प्रवासी क्षेत्र, जिब्राल्टर की एक छोटी से सीमा के, उत्तर में फ्रांस, अण्डोरा और बिस्के की खाड़ी (Gulf of Biscay) तथा और पश्चिमोत्तर और पश्चिम में क्रमश: अटलांटिक महासागर और पुर्तगाल स्थित हैं।

674 किमी लंबे पिरेनीज़ (Pyrenees) पर्वत स्पेन को फ्रांस से अलग करते हैं। यहाँ की भाषा स्पानी (Spanish) है।

स्पेनिश अधिकार क्षेत्र में भूमध्य सागर में स्थित बेलियरिक द्वीप समूह, अटलांटिक महासागर में अफ्रीका के तट पर कैनरी द्वीप समूह और उत्तरी अफ्रीका में स्थित दो स्वायत्त शहर सेउटा और मेलिला जो कि मोरक्को सीमा पर स्थित है, शामिल है। इसके अलावा लिविया नामक शहर जो कि फ्रांसीसी क्षेत्र के अंदर स्थित है स्पेन का एक बहि:क्षेत्र है। स्पेन का कुल क्षेत्रफल 504,030 किमी² का है जो पश्चिमी यूरोप में इसे यूरोपीय संघ में फ्रांस के बाद दूसरा सबसे बड़ा देश बनाता है।

स्पेन एक संवैधानिक राजशाही के तहत एक संसदीय सरकार के रूप में गठित एक लोकतंत्र है। स्पेन एक विकसित देश है जिसका सांकेतिक सकल घरेलू उत्पाद इसे दुनिया में बारहवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाता है, यहां जीवन स्तर बहुत ऊँचा है (20 वां उच्चतम मानव विकास सूचकांक), 2005 तक जीवन की गुणवत्ता सूचकांक की वरीयता के अनुसार इसका स्थान दसवां था। यह संयुक्त राष्ट्र, यूरोपीय संघ, नाटो, ओईसीडी और विश्व व्यापार संगठन का एक सदस्य है।

अन्य भाषाओं में

This page is based on a Wikipedia article written by authors (here).
Text is available under the CC BY-SA 3.0 license; additional terms may apply.
Images, videos and audio are available under their respective licenses.